How to make plants fertile

पौधों को उपजाऊ कैसे बनाये ? How to make plants fertile?

How to make plants fertile? पौधों को उपजाऊ कैसे बनाये ?

How to make plants fertile: पौधों को उपजाऊ कैसे बनाये ये जानने से पहले हमें ये जानन जरुरी है की पौधों को उपजाया कैसे जाता है और इन्हे कैसे और कहाँ उपजाया जाता है। तो चलिए जानते है की किस प्रकार से और कहाँ पौधों को कितनी मेहनत और देख भल करने के बाद उपजाया जाता है। हम आपको स्टेप-स्टेप बताएंगे की कैसे पौधे को उपजाऊ बनाया जाता है।

सबसे पहले आप ये जान लीजिये की पौधे अपने आप नहीं उगते है उन्हें उगाया जाता है। सबसे पहले आपको जिस चीज का पौधा उपजान है, उसका बीजो को रोपना पड़ेगा। मतलब आपको सबसे पहले बाजार से बीजो को खरीद कर के लाना होगा फिर उन्हें अच्छे से जमीं में गढ़ा कर के उन्हें रोपना होगा। फिर उसमे हल्का सा पानी का छिड़काव करना होगा और बस छोड़ देना होगा।

फिर कुछ दिनों बाद आपको उसकी देख भल करनी होगी जैसे उन्हें अचे से धुप मिलनी चाहिए और अचे से समय समय पैर पानी मिलना चाहिए और सबसे महत्वपूर्ण उन्हें जानवरो से सुरक्षित रखना होगा वरना ये जानवरो का प्रिये होता है वो इन्हे खा जाते है।

फिर जब वे कुछ दिनों बाद पौधे में बदल जाते है तो वो पौधे कहलाते है।

जब पौधे त्यार हो जाते है, तो उन्हें उस जगह से उखाड़ कर के दूसरी जगहों पे रोपा जाता है। तो इस पर्किर्या को पौधा रोपण कहा जाता है। तो चलिए हम आगे जानते है की किस प्रकार से पौधों को उपजाऊ बनाया जाये।

Read Also: खेती के लिए मिट्टी को उपजाऊ कैसे बनाये ?

सबसे पहले तो आपको एक उपजाऊ जमींन बोले तो जहाँ आप पौधे को रोपना चाहते हो वो जमींन बहुत ही उपजाऊ होनी चाहिए। उसके बाद आपको बहुत साड़ी चीजों का ध्यान रखना होगा की कैसे पौधे को उपजाऊ बनाया जाता है। जमींन के मिट्टी को अच्छे से जोत ले ताकि पौधे के जड़ो को फैलने में कोई परेशानी न हो और वे अच्छे से फ़ैल सके और तेजो से बढ़ सके।

उसके बाद आपको जमींन में जमींन के उर्वरक को मिलाना है जैसे :- गोबर और खाद पदार्थ इत्यादि। जिससे की जमींन और भी उपजाऊ हो जाए और पौधे और भी जाएगा बढे और बड़े-बड़े हो जाये।

रोपने से पहले आपको उसको एक बार के लिए जमींन में सिचाई अर्थात पानी डाल देना है। उसके कुछ दिनों के बाद आपको पौधे को जमींन में रोपना है क्यूंकि जमींन अब अच्छे से त्यार है। अब आपको जमींन में गढ़ा करना है ताकि आप जमींन के अंदर पौधे को रोप सके। अब आपको गढ़ा करने के बाद उसमे पौधे को रोप देना है। और उसके बगल-बगल अच्छे से हल्का-हल्का सा गोबर मिला देना है मिट्टी में और हल्का-हल्का पानी डाल देना है। उसके बाद आपको उसकी अच्छे से देख भाल करनी होगी जैसे उसको अच्छी तरह से धुप मिलनी चाहिए और अच्छे से पानी मिलनी चाहिए और अच्छे से हवा मिलनी चाहिए। इतना करने बाद भी आपको इन पौधों को जनवरो से सुक्षित रखना होगा। ताकि वे इन्हे खा ना जाये।

About Kratom: Read details here

कुछ दिनों बाद जब ये थोड़े और भी बड़े हो जाये उसके बाद आपको इसको कोडना होगा क्यूंकि कोड़ने के बाद इनके जड़ो को भी अचे से हवा,पानी और धुप मिल पाता है इसको कोड़ने के बाद एक दिन के लिए इसको इसी तरह से छोड़ दे उसके बाद इसको वापस से उसी तरह से ढक दे मिट्टी के द्वारा और हल्का-हल्का पानी का छिड़काव कर दे।

उसके बाद आपको एक चीज का ध्यान रखना होगा की पौधे अच्छे से बढ़ रहे है की नहीं और ये जावित भी है या मर चुके है इत्यादि। इतना सब के बाद जब पौधे बड़े होंगे इतने देख भाल के बाद तो वो अधिक से अधिक उपजाऊ हो जायेंगे और वे बड़े-बड़े उपजेँगे। जिससे की पौधे और भी जाएदा उपजाऊ बन जायेंगे और अच्छे से बढ़ पाएंगे।

Read Also:गेहूं की खेती कैसे करें ? How to cultivate wheat?

निष्कर्ष:- इस लेख से निस्कर्स निकलता है की आप किस प्रकार से किसी पौधे को उपजाऊ बना सकते है और उसे अच्छे से और बड़े-बड़े उपजा सकते है। आशा करते है की आपको इस लेख में लिखे गए सारे स्तब्ध अचे से समझ में आ गए होंगे और आपको किसी प्रकार की कोई परेशनी नहीं हुवी होगी। और यदि आपको किसी प्रकार की कोई परेशानी है तो हमारे निचे दिए गए कमेंट सेक्शन में कमेंट कर के जरुरु बताये या हमारे दिए गए ईमेल पे जरूर कांटेक्ट करे।

धन्यवाद !!!!!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *