mashroom ki kheti

Mashroom Ki Kheti Kaise Kare? मशरूम की खेती कैसे करे ?

Mashroom Ki Kheti Kaise Kare in Hindi

Mashroom Ki Kheti करना बहुत ही सरल है। आप इसे अपने घर के एक छोटे से कमरे में भी ऊगा सकते है। और आपने बड़े से खेत या मैदान में भी उपजा सकते है। तो चलिए जानते है किस प्रकार से Mashroom Ki Kheti की जाती है और आपको किन-किन बातो का ध्यान रखना होगा Mashroom Ki Kheti karne से पहले और उगाने के समय में। पिछले कुछ सालो से  Mashroom की मांग बाजार में बढ़ती ही जा रही है और मशरूम की उपज घटती ही जा रही है।

 इसलिए किसानो के लिए ये एक अच्छा मौका की वे Mashroom Ki Kheti कर के अच्छी खासी मुनाफे कमा सकते है। और सरकार भी इसके लिए  मुफ्त में प्रसिच्छन दे रही है। और किसानो और लोगो को जागरूक कर रही है की किस प्रकार से Mashroom Ki Kheti करनी चाहिए और वे मुफ्त में बीज भी वितरित करते है।

Mashroom Ki Kheti Uttar Pradesh में भारी मात्रा में की जा रही है और वहां के किसान अधिक मात्रा में मुनाफा कमा रहे है। इसलिए आपको भी इसके बारे में सोचना चाहिए।  

मशरूम क्या होती है ?

Mushroom एक प्रकार की सब्जी होती है जिसे गर्मी में और ठन्डे के दिनों में उगाया जाता है। आप Mushroom को अक्टूबर के महीने से इ कर के फरवरी के महीने के बिच ऊगा सकते है। Mushroom एक प्रकार की सब्जी होती है जिसे लोग उगते है और उसे खाने के लिए प्रयोग किया जाता है। मशरूम की खेती करना बहुत ही सरल है। आपको बता दे की मशरूम तीन प्रकार के होते है।

  1. बटन मशरूम
  2. ढिंगरी मशरूम (ऑयस्टर मशरुम)
  3. दूधिया मशरूम (मिल्की मशरूम)

तो चलिए आपको बताते है किस प्रकार से इन सारे प्रकार के मशरूम की खेती की जाती है और आप कैसे अपने घर या खेत में इन सब Mushroom की खेती कर सकते है।

Read also:- गेहूं की खेती कैसे करें ? HOW TO CULTIVATE WHEAT?

बटन मशरूम की खेती:-

बटन मशरूम (Button Mushroom) के बीजो को स्पान कहा जाता है। बटन मशरूम को उगाने के लिए आपको निम्न तापमान की जरुरत पड़ेगी। आप इसे अपने घर के एक छोटे से कमरे में ऊगा सकते है। तो आपको उसे अपने कमरे में ही उगना है।

mashroom ki kheti kaise karen

सबसे पहले आपको अपने नजदीकी और विश्वासी दूकान से उनके बीजो को खरीद के इ आना है, और ध्यान में ये रखना है की वो बीज 1 महीने से पराने नहीं होने चाहिए। वर्ण वे अच्छे से नहीं उगगे। फिर आपको उन्हें कमरे में लाये गए मट्टी में गढ़ा कर के थोड़ी-थोड़ी दुरी पे रोप देना है।

इतना करने के बाद उसमे हल्का-हल्का पानी का छिड़काव कर देना है, साथ में कमरे के दिवार और फर्श को भी भीगा देना है ताकि कमरे का तापमान बरकरार रहे। फिर इतना करने के बाद आपको बता दे की कुछ दिनों में मशरूम जमीं के अंदर से भर की और निकलना शुरू हो जायेंगे। फिर वे जब थोड़े बड़े हो जाये तो आपको उन्हें अचे से काट लेना है ताकि वे खाने के उपयोग में लाया जा सके। और काटना इसलिए है ताकि वहां फिर से दूसरे मशरूम बड़े हो जाये और वे भी उपयोग में आ जाये।

ढिंगरी मशरूम (ऑयस्टर मशरुम):-

ढिंगरी मशरूम (ऑयस्टर मशरुम) की खेती करने के लिए भूसे का प्रयोग किया जाता है। और भूसा गिला नहीं होना चाहिए और उसमे कोई अन्य प्रकार के अवशेष नहीं होने चाहिए। आप ढिंगरी मशरूम (ऑयस्टर मशरुम) को 20-25 दिनों के भीतर उगाया जा सकता है।

mashroom ki kheti in hindi

आपको सीधे बीजो को बाजार से खरीद के ले आना है। फिर उन्हें अच्छे से धो कर के भूसे के अंदर रोप दे। फिर उसके 20-25 दिनों बाद आपक देखंगे की मशरूम भूसे से बाहर की और निकल चुके है और वे तैयार है। उसके बाद आप उन्हें काट कर के खाने के उपयोग में ला सकते है। और काटना इसलिए है ताकि वहां फिर से दूसरे मशरूम बड़े हो जाये और वे भी खाने के उपयोग में आ जाये।

Read also:- खेती के लिए मिट्टी को उपजाऊ कैसे बनाये ?

दूधिया मशरूम (मिल्की):-

दूधिया मशरूम (मिल्की मशरूम) इसे गर्मी के मौसम में उगाया जाता है। और इसे दूधिया मशरूम (मिल्की) के नाम से जाना जाता है। दूधिया मशरूम (मिल्की) को उगाने के लिए आपको अधिक तापमान की जरुरत पड़ेगी। इसलिए इसे गर्मी के दिनों में उगाया जाता है।

mashroom ki kheti kaise kare

दूधिया मशरूम (मिल्की) को उगाने के लिए मशरूम के कवक जाल को 25-30 डिग्री सेल्सियस होनी चाहिए और नमी 85-90 प्रतिशत होनी चाहिए। यदि तापमान 40 डिग्री से अधिक हो तो ये और भी जाएदा उपजते है।

निष्कर्ष :- आशा करते की आपको ये अच्छे से समझ में आ गया होगा की किस प्रकार से mashroom ki kheti की जाती है और कितने प्रकार के मशरूम होते है। आपको उन में से सबसे अच्छा कौन सा लगा और आप कौन से mashroom ki kheti कर रहे हो हमें कमेंट कर के जरूर बताये। यदि आपको किसी प्रकार की कोई दिक्कत है या परेशानी है तो आप हमें कमेंट कर सकते है या दिए गए हमारे ईमेल से हमें कांटेक्ट कर सकते है।

धन्यवाद!!!!

You may like…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *